चुदक्क्ड ऑन्टी में और मेरा दोस्त hindi sex story

chudakkd aunty

किसी आंटी को सेट करना आसान नहीं होता पर मैने एक आंटी को सेट किया वो बहुत ही सेक्सी थी। और उसकी गांड भी मस्त फूली फूली थी। आंटी के पति अमेरिका में रहते थे। और आंटी यहाँ अकेले रहती थी। जब भी वो अकेली रहती थी मुझे काल करके बुला लिया करती थी। में रोज उनके घर जाया करता था एक दिन आंटी की कमर में दर्द हो रहा था। मैने कहा आंटी आओ में मालिश कर देता हु। आंटी ने कहा हा कर दो और आंटी बिस्तर में उल्टा लेट गई में सरसों का तेल लेकर आया और आंटी की कमर में मालिश करने लगा। आंटी की गांड देखते ही मेरा लंड खड़ा होने लगा। में अपना हाथ थोडा निचे लेजाकर आंटी की गांड में मालिश करने लगा। आंटी ने कहा आह तुम तो बहुत ही अच्छा मालिश करते हो और में आंटी की गोल गोल बड़ी गांड को दबा दबा के मालिश करने लगा। फिर आंटी ने कहा थोडा मेरे बटले में भी मालिश कर दो मैने आंटी के मस्त रसीले बटले में तेल लगा कर आंटी के बटले को दबाने लगा।

आंटी भी जोश में आने लगी और आंटी ने कहा चलो में तुम्हारे लंड का मालिश करती हु। मैने तुरंत ही अपना जींस उतार दिया और अपना खड़ा लंड आंटी के हाथ में पकड़ा दिया। आंटी बड़े प्यार से मेरे लंड में सरसों का तेल लगाने लगी। में अपनी दोनों आंखे बंद करके मालिश का मजा लेने लगा। फिर आंटी ने कहा अपन रोज एक ही इस टाइप से सेक्स करते है। आज कुछ नया करेंगे मैने कहा ठीक है। में बिस्तर में लेटा हुआ था। आंटी ने थोडा सा तेल अपने हाथ में लिया और अपनी बड़ी गांड में लगा लिया और मेरे लंड को अपने गांड में टिका के मेरे उपर बैठ गई। और मेरे खड़े लंड को धीरे धीरे अपनी गांड में घुसाने लगी में भी निचे से झटका मारने लगा। और अपना लंड आंटी की गांड में घुसाने लगा। और एक हाथ से आंटी का बटला दबाने लगा। और आंटी को अपनी तरफ खीच के आंटी के झूलते बटले की चूची को अपने मुह में लेकर चूसने लगा। मेरा लम्बा लंड आंटी के गांड में पूरा अंदर तक जा रहा था। मैने कहा आंटी आज मुझे आपका चूत चाटना है। आंटी ने कहा पहले मेरी गांड मारो फिर में तुम्हारा लंड चुसुंगी। और तुम भी मेरा चूत चाट लेना मैने कहा ठीक है।

और में आंटी की गांड मारने लगा आंटी भी उछल उछल के गांड मरवा रही थी। तभी मेरे दोस्त का फ़ोन आया उसने पूछा कहा हो मैने कहा कही काम से आया हु . तभी आंटी ने कहा तुम्हारा कोन दोस्त है। मैने कहा मेरे साथ पढता है। तो आंटी ने कहा उसे भी बुला लो आज मुझे एक साथ दो लंड लेने का मन कर रहा है। मैने तुरंत अपने दोस्त को काल किया और उसे बुला लिया वो आंटी का घर जनता था। वो तुरंत आ गया। उसने जैसे ही आंटी को नंगा देखा। वो कापने लगा आंटी मेरे दोस्त के पास नंगी गई और बोली घबराओ मत अपना लंड दिखाओ। और आंटी उसका जींस खोल के उसके लंड को हिलाने लगी। मैने अपने दोस्त से कहा चलो मजा करो वो आंटी के बटले को दबाने लगा। फिर आंटी ने एक एक करके हम दोनों का लंड चूसा।

आज तो मेरा दोस्त बहुत खुश था। क्योकि आज में उसे आंटी चुदवाने वाला था। फिर आंटी ने मुझे कहा तुम मेरी गांड में डालना और तुम्हारा दोस्त मेरी चूत में डालेगा। और आंटी मेरे दोस्त को सोफे में बैठा के उसके लंड को अपनी चूत में टिका के उससे चुदवाने लगी। और मुझसे कहा चलो पीछे से मेरी गांड मारो। में भी पीछे से आंटी की गांड में अपना लंड टिका के आंटी का गांड मारने लगा। आंटी आआअ आआ तुम दोनों का लंड मजे दार है। अआह और आंटी उस दिन कुतिया की तरह चुदवाने लगी। और मेरा दोस्त और में उस चुदक्कड आंटी को कुत्ते की तरह चोदने लगे ….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *